harish meena gopichand meena

जयपुर।

कांग्रेस की देवली उनियारा से विधायक हरीश चंद्र मीणा ने प्रदेश की अशोक गहलोत सरकार को हत्यारी सरकार करार दिया है।

हरीश मीणा ने कहा है कि राज्य में आज की तारीख में एक ऐसी सरकार है जो एक आदमी की हत्या को दबाने के लिए कई हत्याएं करने के लिए तैयार बैठी है। देखिए वीडियो-

हरीश मीणा ने आज से दोबारा धरना शुरू कर दिया है। कल शाम को ही राज्य के खाद्य नागरिक आपूर्ति मंत्री रमेश चंद्र मीणा ने उनका और उनके साथ ही विधायक गोपीचंद मीणा का अनशन तुड़वाया था।

पांच में से एक मांग पर राज्य सरकार मुकर गई। भजन लाल मीणा के शव का पोस्टमार्टम टोंक के ही 3 डॉक्टरों के द्वारा पोस्टमार्टम करने पर सहमति बनी थी।

लेकिन राज्य सरकार ने जयपुर से डॉक्टरों की कमेटी गठित कर पोस्टमार्टम करने के आदेश दे दिए, इसके बाद कांग्रेस विधायक हरीश चंद्र मीणा भड़क गए ।

उन्होंने आज फिर से राज्य की अशोक गहलोत सरकार के खिलाफ बिगुल बजाते हुए फिर से धरने पर बैठ गए। उनके साथ यहां पर हजारों की संख्या में ग्रामीण मौजूद है।

ग्रामीणों को संबोधित करते हुए हरीश मीणा ने कहा कि राज्य की सरकार एक हत्या को छुपाने के लिए अधिकारियों को बचाने के लिए आरोपियों को बचाने के लिए और हत्या करने पर आतुर है।

उन्होंने समाज से आह्वान किया कि अगर सरकार हत्यारी है तो हम कुर्बानी देने के लिए तैयार हैं। उन्होंने समाज से मांग की कि लोग धरने में शामिल होने के लिए यहां आ जाए।

अगर राज्य सरकार लाठी और गोली चलाना चाहती है, तो भी वह तैयार हैं। उन्होंने समाज को आंदोलन में शामिल होने की अपील की है।

गौरतलब है कि 29 मई को देवली उनियारा पुलिस ने एक ट्रैक्टर चालक भजन लाल मीणा की पीटकर हत्या कर दी थी।

जिसके विरोध में गुर्जर और मीणा समाज आंदोलन पर है और इस दौरान देवली उनियारा कांग्रेस विधायक हरीश चंद्र मीणा और भीलवाड़ा के जहाजपुर से भाजपा विधायक गोपीचंद मीणा ने 3 दिन तक अनशन किया है।