अंडर-19-विश्व-कप-:-जापान-को-हराकर-भारत-सुपर-लीग-में-पहुंचा-(राउंडअप-इंट्रो)

ब्लॉमफोनटेन (दक्षिण अफ्रीका), 21 जनवरी । मौजूदा चैंपियन भारत ने यहां जारी आईसीसी अंडर-19 क्रिकेट विश्व कप के ग्रुप-ए के अपने दूसरे मैच में मंगलवार को जापान को 10 विकेटों से हराकर टूर्नामेंट में अपनी लगातार दूसरी जीत दर्ज की। इसके साथ भारत अपने ग्रुप से सुपर लीग में पहुंच गया है।
भारत ने ग्रुप-ए इस मुकाबले में टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करते हुए जापान को 41 रनों पर ढेर कर दिया और फिर 4.5 ओवरों में ही बिना कोई विकेट खोए लक्ष्य हासिल कर लिया।

भारतीय टीम के लिए यशस्वी जयसवाल ने 18 गेंदों पर पांच चौकों और एक छक्के की मदद से नाबाद 29 और कुमार कुशाग्र ने 11 गेंदों पर दो चौकों के सहारे नाबाद 13 रन बनाए।

इस जीत के बाद ग्रुप-ए में भारतीय टीम दो मैचों से चार अंक हो गए हैं और वह अगले दौर के लिए क्वालीफाई कर गया है। न्यूजीलैंड और जापान एक-एक अंकों के साथ क्रमश : दूसरे और तीसरे नंबर पर है।

मैच में आठ ओवरों में पांच रन देकर चार विकेट लेने वाले रवि बिश्नोई को उनकी शानदार गेंदबाजी के लिए मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार मिला, जोकि उनके करियर का पहला मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार है।

भारत को ग्रुप-ए में अब अपना तीसरा मैच शुक्रवार को इसी मैदान पर न्यूजीलैंड के खिलाफ खेलना है।

इससे पहले, भारत ने पहले गेंदबाजी करते हुए जापान को 22.5 ओवरों में पवेलियन लौटा दिया। भारत की ओर से रवि बिश्नोई ने शानदार गेंदबाजी करते हुए आठ ओवरों में पांच रन देकर चार विकेट लिए जबकि कार्तिक त्यागी को तीन विकेट मिले। अब भारत को जीत के लिए 42 रनों की दरकार है।

यह अंडर-19 विश्व कप में किसी भी टीम द्वारा बनाया गया अभी तक का संयुक्त रूप से दूसरा सबसे न्यूनतम है। कनाडा और बांग्लादेश भी अंडर-19 विश्व कप में 41-41 रनों पर ऑल आउट हो चुकी हैं।

जापान के शुरूआती दो विकेट पांच रनों के कुल योग पर गिर गए। कप्तान और विकेटकीपर मार्कस थुरगेट एक रन बनाकर कार्तिक त्यागी की गेंद पर बोल्ड हुए। इसके बाद पांच रन के कुल योग पर ही रवि बिश्नोई ने नील डेट (0) को आउट किया।

सात रन बनाने वाले शू नोगुची का विकेट 14 रन के कुल योग पर गिरा। शू को बिश्नोई ने बोल्ड किया। इसके बाद जापान ने 14 रन के कुल योग पर ही काजुमासा ताकाहाशी (0) का विकेट गंवाया।

19 रन के कुल योग पर इशान फार्टयाल (0) आउट हुए और इसी योग पर एश्ले थुरगेट (0) तथा देबाशीष साहू (0) भी चलते बने।

जापान की टीम का एक भी बल्लेबाज दहाई के आंकड़े को नहीं छू सका। भारत की ओर से आकाश सिंह ने दो और विद्याधर पाटिल ने भी एक विकेट लिया।

भारत अपने पहले मैच में श्रीलंका को 90 रनों से हरा चुका है, जबकि जापान को अपने पहले मैच से एक अंक मिला था। जापान अपने पहले मैच में न्यूजीलैंड के खिलाफ मुकाबले में उतरी थी, लेकिन बारिश के कारण मैच रद्द हो गया था और दोनों टीमों को एक-एक अंक दिया गया था।

–आईएएनएस