चीन व म्यांमार संबंध के विकास पर शी चिनफिंग के 4 सुझाव

[ad_1]

बीजिंग, 17 जनवरी । चीन (Chine)ी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने शुक्रवार को म्यांमार की दो दिवसीय यात्रा शुरू की। इससे पहले उन्होंने एक लेख लिखकर चीन (Chine) व म्यांमार के संबंधों को और बेहतर बनाने पर सुझाव पेश किए। उनका यह लेख म्यांमार मीडिया में प्रकाशित हुआ है।
शी चिनफिंग की यह साल 2020 में पहली विदेश यात्रा है और 19 वर्षों बाद उनकी दूसरी म्यांमार यात्रा है।

रवाना होने से पहले शी चिनफिंग ने लेख लिखा जो म्यांमार के कई मुख्य मीडिया में प्रकाशित हुआ। उन्होंने लेख में आपसी राजनीतिक विश्वास, व्यवहारिक सहयोग और सांस्कृतिक आदान-प्रदान के क्षेत्रों में चीन (Chine)-म्यांमार मित्रवत साझेदारी की प्रशंसा की और आशा जताई कि म्यांमार की यात्रा से और घनिष्ठ चीन (Chine)-म्यांमार के साझे भविष्य का निर्माण किया जाएगा।

शी चिनफिंग ने अपने लेख में नए युग में चीन (Chine)-म्यांमार संबंधों के विकास पर चार सुझाव पेश किए। पहला, रणनीतिक संपर्क मजबूत कर द्विपक्षीय संबंधों का नया ब्लू प्रिंट बनाएं। दूसरा, आर्थिक और व्यापारिक आदान-प्रदान मजबूत कर आपसी लाभ वाले सहयोग में नई उम्मीद जगाएं। तीसरा, आवाजाही और एक दूसरे से सीखने के जरिए मित्रता को गहराएं और चौथा, समन्वय और सहयोग मजबूत करने से क्षेत्रीय शांति और स्थिरता बनाए रखें।

इस साल चीन (Chine) और म्यांमार के बीच राजनयिक संबंधों की स्थापना की 70वीं वर्षगांठ है। चीन (Chine)ी नेता ने नए साल में अपनी पहली विदेश यात्रा के लिए म्यांमार चुना, जिससे जाहिर है कि चीन (Chine) म्यांमार के साथ संबंधों पर विशेष ध्यान दे रहा है।

(साभार-चाइना रेडियो इंटरनेशनल ,पेइचिंग)

–आईएएनएस

[ad_2]