bjp congress flag
bjp congress flag

जयपुर। भाजपा ने प्रदेश की गहलोत सरकार पर तीखा हमला बोला है। बीजेपी ने आरोप लगाते हुए कहा है कि प्रदेश सरकार द्वारा कृषकों को कर्जमाफी का दावा किया गया है, लेकिन यही कांग्रेस सरकार केंद्र सरकार की ‘प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना’ का लाभ नहीं देने दे रही है।

केन्द्रीय कृषि एवं किसान कल्याण राज्यमंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत ने कहा कि मोदी सरकार ने 2014 के बाद कृषि क्षेत्र को बदलने के नजरिये से काम किया और किसानों को सम्मान के साथ लाभ भी मिले इसके लिए कई महत्वपूर्ण योजनाऐं चलायी।

लेकिन कांग्रेस शासित प्रदेशों में अब तक केन्द्र सरकार की योजनाओं का किसानों को लाभ नहीं मिला है। ‘प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना’ के तहत राजस्थान के 50 लाख किसानों को पहली किस्त में 1,000 करोड़ रूपये मिलने थे। प्रदेश की गहलोत सरकार की उदासीनता के चलते किसान इस योजना से वंचित रह गये।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश के 12 करोड़ किसानों को लाभ पहुंचाने के लिए ‘प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना’ चलायी। इस योजना के तहत देश के 4.5 करोड़ किसानों का डाटा केन्द्र सरकार के पास पहुंचा और लगभग पौने तीन करोड़ किसानों के खाते में ‘सम्मान निधि’ देना शुरू किया गया।

शेखावत ने कहा कि इस योजना के तहत लघु और सीमांत किसानों का डाटा प्रदेश की सरकार के तहत केन्द्र सरकार को उपलब्ध कराना था, लेकिन कांग्रेस शासित प्रदेश की सरकारों ने केन्द्र को डाटा उपलब्ध नहीं करवाया और जो डाटा उपलब्ध करवाया है उसमें भी किसी ना किसी तरह की त्रुटि छोड़ी गई है, ताकि किसानों को इस योजना का लाभ ना मिल सकें। किसान, युवा, बेरोजगार एवं जनता से लोकलुभावन वादे कर कांग्रेस सत्ता में आई है।

शेखावत ने कहा कि जिन किसानों का डाटा वेरिफाई हो गया था उन किसानों को भी कांग्रेस सरकार ने आदर्श आचार संहिता लगने तक इस योजना से वंचित रखा, ताकि भाजपा द्वारा चलायी गई योजनाओं का लाभ किसानों को ना मिले। चुनाव के वक्त बड़े-बड़े वादे करने वाली कांग्रेस निर्णय लेने में एकदम विफल है और जिसका खामियाजा प्रदेश के किसानों को भुगतना पड़ रहा है।

इस योजना के तहत देश के 12 करोड़ कृषकों को हर साल 6000 रुपए उनके बैंक खातों में राहत के तौर पर दिया जाएगा। यह पैसा 2000 हजार रुपए की तीन समान किस्तों में दिया जाना है। जिसकी पहली किस्त मार्च में दी जा रही है।