ruhs medical coolage hospital
ruhs medical coolage hospital

jaipur news.

जयपुर को मिला 500 बेड का एक और अस्पताल
राजधानी जयपुर में बने 500 बेड के अस्पताल का शिलान्यास साल 2013 में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने किया, लेकिन उसका निर्माण वसुंधरा राजे की सरकार में हुआ, अब इसे जनता को समर्पित करने का काम भी गहलोत ही कर रहे हैं।

राजधानी में बढ़ती जनसंख्या को उपचारित करने के लिए सरकारी अस्पताल की यह सौगात मिली है। भाजपा सरकार द्वारा बनाए गए आरयूएचएस विवि के संबद्ध आरयूएचएस मेडिकल कॉलेज अस्पताल का आज मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने उद्घाटन किया।

प्रताप नगर में राजस्थान स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय के पास बने इस 500 बेड के अस्पताल के तैयार होने से दक्षिण जयपुर के करीब 15 लाख लोगों को राहत मिलेगी।

यह अस्पताल करीब 408 करोड़ की लागत से तैयार हुआ है। जिसमें से 111 करोड़ रुपए केवल निर्माण कार्य पर खर्च हुए हैं। अस्पताल और कॉलेज का मिलाकर 1.21 लाख वर्ग मीटर क्षेत्रफल है। जिसके 40 फीसदी हिस्से में निर्माण हुआ है। फिलहाल हॉस्पिटल को 60 डॉक्टर मिले हैं, लेकिन जरूरत के मुताबिक अन्य डॉक्टर भी जल्द ही अपॉइंट किए जाएंगे।

इस अस्पताल का शिलान्यास भी पूर्व मुख्यमंत्री काल में अशोक गहलोत ने ही किया था, लेकिन निर्माण कार्य बीजेपी शासन में पूरा हुआ है।

सुविधाओं की बात करें तो हॉस्पिटल में एसएमएस, जयपु​रिया हॉस्पिटल और गणगौरी अस्पताल के बाद सर्वाधिक सुविधाएं हैं।

अभी केवल 500 बेड का है, लेकिन अलग अलग चरणों में अस्पताल में 1000 बेड कर दिए जाएंगे।

अस्पताल में अभी 7 विभाग हैं, जिनमें 3—3 स्नातकोत्तर कोर्स शुरू हुए हैं। कॉलेज को भी एमसीआई ने मान्यता दे दी है।

हॉस्पिटल में एनोटोमी, फिजियोलॉजी, बायोकैमेस्ट्री, पैथोलॉजी, माइक्रो बायोलॉजी और पीएसएम डिपार्टमेंट स्थापित किए गए हैं।

कॉलेज की जांच लैब भी शुरू हो चुकी है। बायोकैमिस्ट्री, फिजियोलॉजी, माइक्रो बायोलोजी में स्नातकोत्तर सीटें मिल चुकी हैं।

राज्य सरकार द्वारा प्रदत सभी नि:शुल्क सेवाओं का फायदा जनता को यहां मिल सकेंगी। मरीज पूरी तरह से सरकारी अस्पताल का लाभ ले पाएंगे।

बीते 9 साल से सरकार के लिए सिरदर्द बने हुए स्वाइन फ्लू से निपटने के लिए अत्याधुनिक स्वाइन फ्लू प्रयोगशाला स्थापित की गई है।

एसएमएस अस्पताल के अलावा जयपुर में यह दूसरी स्वाइन फ्लू लैब है। यहीं पर डॉक्टरों और रेजिडेंट्स के लिए आवास सुविधा तैयार की गई है।

अधिक खबरों के लिए हमारी वेबसाइट www.nationaldunia.com पर विजिट करें। Facebook,Twitter पे फॉलो करें।