दिनेश कड़वा।

आज कुचामन सिटी में गुलजारपुरा स्थित रामचंद्र सारड़ा के नोहरे में मुस्लिम एज्यूकेशनल एण्ड वेलफेयर सोसाइटी द्वारा आयोजित प्रतिभा सम्मान समारोह में 202 प्रतिभाओं को सम्मानित किया गया।

इस समारोह में नावां विधायक एवं राजस्थान सरकार के मुख्य उपसचेतक महेंद्र चौधरी ने कहा कि कंपटीशन के इस दौर में बहुत मेहनत की जरूरत है और ऐसे अव्वल आने वाले विद्यार्थियों का हमेशा सम्मान होना चाहिए।

कार्यक्रम में जिला जज चूरू अयूब खान, राजस्थान राज्य हज कमेटी के अधिशाषी अधिकारी महमूद खान, इंदिरा गांधी खुला विश्वविद्यालय के क्षेत्रीय निदेशक डॉ. मुख्त्यार अली, कुचामन विकास समिति के अध्यक्ष ओमप्रकाश काबरा, कुचामन नगरपालिका के नेता प्रतिपक्ष हाजी फजलू रहमान कुरैशी, जिला अध्यक्ष कांग्रेस अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ जावेद गौरी, बीकानेर के व्यवसायी व समाजसेवी इकबाल खान, नागौर के समाजसेवी, मदरसा अंजुमन सोसाइटी मकराना के सदर हाजी इकरामुद्दीन, जिला कार्यक्रम अधिकारी अल्पसंख्यक मामलात विभाग नागौर बशीर खान, और कृषि उपज मंडी के उपाध्यक्ष आरिफ खान तथा शहर के गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे।

कम्पीटिशन के इस दौर में कड़ी मेहनत ही कामयाबी का रास्ता- महेंद्र चौधरी 1

इस समारोह में कक्षा 10, कक्षा 12, स्नातक स्तर, अधि स्नातक स्तर, मेडिकल प्रवेश और मेडिकल की पढ़ाई पूर्ण करने वाले, इंजीनियरिंग प्रवेश, नर्सिंग, एलएलबी, बीएड तथा राजकीय सेवा में चयनित कुल 202 प्रतिभाओं का सम्मान किया गया।

इस अवसर पर बोलते हुए महमूद खान ने सकारात्मक सोच रखते हुए अनुशासन पर चलते हुए अपना भविष्य संवारने की बात कही।

जिला जज चुरू अयूब खान ने कहा कि तनाव को त्यागकर और मोबाइल से परहेज करते हुए नई तकनीक को अपनाते हुए समय के साथ कदम से कदम मिलाते हुए चले और लक्ष्य को प्राप्त करें।

कुचामन विकास समिति के अध्यक्ष ओमप्रकाश काबरा ने कहा कि पिछले 10 वर्षों से आयोजित हो रही इस प्रोग्राम में सम्मानित होने वाले मुस्लिम विद्यार्थियों की बढ़ती हुई संख्या को देखते हुए यह लगता है कि अब मुस्लिम समाज की शिक्षा प्राप्ति में रूचि बढ़ रही है, इसी कारण इनकी राजकीय सेवा में चयनित होने के अवसर भी बढ़े हैं।

कृषि उपज मंडी कुचामन सिटी के उपाध्यक्ष आरिफ खान ने कहा कि स्वस्थ प्रतिस्पर्धा रखते हुए एक दूसरे के अध्ययन में सहायता करते हुए अपने लक्ष्य को भेदने की कोशिश करें।

कुचामन नगरपालिका के नेता प्रतिपक्ष हाजी अब्दुल रहमान कुरैशी ने कहा कि इस्लाम की मुकद्दस किताब कुरान शरीफ की पहली सूरत नाजिल हुई, जिसका अर्थ है कि पढ़ो अपने रब के नाम से।

लिहाजा इस्लाम का संबंध इल्म हासिल करने से भी है और इन प्रतिभाओं ने अपने क्षेत्र में अव्वल रहकर यह बात साबित भी कर दी है।

मेहमानों ने 202 प्रतिभाओं को मोमेंटो और प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया। इस वर्ष 13 प्रतिभाओं का राजकीय सेवा में चयन हुआ, जिनका भी सम्मान किया गया। इनका हुआ सम्मान-

कक्षा 10, कक्षा 12, स्नातक स्तर, अधि स्नातक स्तर, और अन्य तमाम विषयों के प्रथम स्थान पर रहने वाली 20 प्रतिभाओं को सिल्वर मेडल से नवाजा गया।

इनमें आफिया खान, अफसाना, हीना सोलंकी, निशा रंगरेज, कौसर टाक, मोहम्मद शाहरुख़, फैसल रफीक उस्मानी, शहजाद अली, युसूफ खान, शहनाज, अमरीन, डॉक्टर अंजुम सिद्दीकी, डॉक्टर दाउद अली खान, नुसरत भाटी, मोहम्मद आमिर खान, जावेद, हारून रशीद, साहिल अहमद, और जुबेर भाटी को सिल्वर मेडल से नवाजा गया।

मुख्य अतिथि रहे मुख्य उपसचेतक महेंद्र चौधरी ने मंच से बोलते हुए बताया की बच्चों को छोटी सी कामयाबी भी रोमांचित और उत्साहित करती है, यह बच्चे समाज का आईना और भविष्य होते हैं।

उन्होंने कहा कि आपको निरंतर मेहनत कर आगे बढ़ना ही है और अपने समाज और माता पिता का नाम रोशन करना है, साथ ही बताया कि आप उच्च अध्ययन कर राजकीय सेवा में जाकर समाज और देश के विकास में सहयोग प्रदान कर सकते हैं।

समापन पर सभी को सोसायटी सदर और पदाधिकारियों ने समृति चिन्ह भेंट किए। अंत में सोसाइटी के सदर ने पधारे हुए मेहमानों और गणमान्य नागरिकों को धन्यवाद दिया।

इस अवसर पर मास्टर अब्दुल मजीद कुरेशी, बहादुर खान, गुलशेर खान, आरिफ खान, शेर मोहम्मद खान, सलीम मणियार, आरिफ खान, रफीक खान, इमरान खान, राम काबरा, आनंद सिंह, हेमराज चावला, अहमद खान पार्षद, इकबाल व्यापारी, पार्षद आबिदा राव, डॉक्टर सलीम मोहम्मद राव, डॉक्टर इशाक देवड़ा, मनसब खान , शेख मईनुदीन अशरफी, मोहम्मद भाई, हाजी इकरामुद्दीन, सदर अंजुमन सोसाइटी मकराना, जहीर खान, हबीब मौलानी, इमरान खान, सरवर तंवर आरिफ टाक आदि मौजूद रहे।

अधिक खबरों के लिए हमारी वेबसाइट www.nationaldunia.com पर विजिट करें। Facebook,Twitter पे फॉलो करें।