20 हजार बच्चे एक स्वर, लय और ताल में गाएंगे वन्देमातरम गीत

13
nationaldunia
- Advertisement - dr. rajvendra chaudhary

जयपुर।

हिंदू आध्यात्मिक सेवा फाउंडेशन जयपुर चैप्टर द्वारा प्रतिवर्ष होने वाले वंदेमातरम कार्यक्रम में इस बार 20 हजार बालक-बालिकाओं एवं इतने ही शहरवासियों द्वारा साढ़े 5 मिनिट में 6 अन्तरे के सम्पूर्ण वंदेमातरम गान का एक ही स्वर , लय और ताल में गाया जाएगा।

यह जानकारी देते हुए हिंदू आध्यात्मिक सेवा फाउंडेशन के सचिव सोमकांत शर्मा ने बताया कि पिछले एक डेढ़ महीने से जयपुर शहर के लगभग 200 विद्यालयों एवं महाविद्यालयों के विद्यार्थियों को वंदे मातरम गीत कंठस्थ करवाया गया।

जिसकी सामूहिक प्रस्तुति राजस्थान कॉलेज में 6 अक्टूबर को सायं 5 बजे वॉइस आॅफ यूनिटी, वंदे मातरम गीत द्वारा की जाएगी।

वन्देमातरम कार्यक्रम के संयोजक महेंद्र सेठी ने बताया कि इस कार्यक्रम में देश के शहीदों के सम्मान में एवं शहीदों के परिवारों के सम्मान में राष्ट्रभक्ति से ओतप्रोत परमवीर वंदन कार्यक्रम भी होगा जिसमें मुंबई के ख्यात नाम गायक वैभव वशिष्ठ द्वारा देश भक्ति के गीतों की प्रस्तुति दी जाएगी।

विश्वविख्यात कथक एवं नृतक कलाकारों द्वारा रंगारंग प्रस्तुति भी दी जाएगी। वन्देमातरम गीत से पूर्व 90 मिनिट के प्रोग्राम में मांगणियार व लंगा लोक कलाकारों द्वारा प्रसिद्ध रागों यथा राग मल्हार ,राग मांड एवं राग देश आदि की प्रस्तुति दी जायेगी।

इस अवसर पर हजारों की संख्या में आमजन भी हिस्सा लेकर वन्देमातरम गीत गाकर देश के प्रति अपना दायित्व और भाव प्रकट करेंगे।

इस अवसर पर हिन्दू आध्यात्मिक सेवा फाउंडेशन जयपुर चेप्टर के अध्यक्ष सुभाष बापना, कार्यक्रम सह संयोजक अनुराग अग्रवाल ,अमित अग्रवाल , नरेंद्र कंदोई , राजेन्द्र सिंह शेखावत दिनेश पितलिया एवं मीडिया प्रभारी जगदीश ए. पंचारिया ने भी कार्यक्रम की जानकारी दी।