amit shah bjp presidant (file photo)
amit shah bjp presidant (file photo)

नई दिल्ली।
भाजपा ने 5 साल के विजन के साथ अपना घोषणा पत्र जारी किया है। अपने घोषणा पत्र को ‘संकल्प पत्र’ नाम दिया है, जिसको गृहमंत्री राजनाथ सिंह की टीम ने तैयार किया है। भाजपा ने 75 संकल्प लिए हैं।

इस संकल्प पत्र को जारी करने से पहले भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने मोदी सरकार के पिछले पांच साल के दौरान किए गए कार्यों का जमकर उल्लेख किया। उन्होंने आतंकवाद, भ्रष्टाचार, उज्जवला योजना, शौचालय, आयुष्मान भारत योजना, जीएसटी, विदेश नीति का उल्लेख किया तो साथ ही 2004 से 2014 को देश डुबोने वाला कार्यकाल करार दिया।

अमित शाह ने कहा कि देश के 50 करोड़ लोगों के जीवन स्तर का उंचा उठाने के लिए काम किया। शाह ने कहा कि आज भारत के लोग दुनिया में सिर उठाकर जीने के हकदार हुए हैं तो उसके लिए मोदी सरकार की अथक मेहनत है।

शाह ने कांग्रेस का नाम लिए बिना आरोप लगाया कि कैसी सरकार थी, जिसने 12 लाख करोड़ के घोटाले किए, जबकि मोदी सरकार में एक भी घोटाले का नाम नहीं लिया गया। उन्होंने कहा कि तीस साल बाद बहुमत से सरकार बनी और उसका परिणाम आज पूरी देनिया देख रही है। ये हैं प्रमुख घोषणाएं—

-राष्ट्रवाद के प्रति प्रतिबद्धता है, आतंक के प्रति जीरो टॉलरेंस की पॉलिसी है, जो जारी रहेगी।
-समान नागरिक संहिता हमारी प्रतिबद्धता है और हम इसको करेंगे। भारत में होने वाली घुसपैठ को सख्ती से रोकेंगे।
-नागरिकता संसोधन बिल को संसद के दोनों सदनों से पास कराएंगे और उसे लागू करेंगे, लेकिन किसी राज्य की सभ्यता और भाषाई पहचान को बचाएंगे।
-देश की सुरक्षा के साथ हमारी सरकार समझौता नहीं करेगी।

-राम मंदिर के संकल्प को भी दोहराते हैं। हमारा प्रयत्न होगा कि राम मंदिर का जल्द से जल्द और संविधान के दायरे में निर्माण हो जाए।
-प्रधानमंत्री ने शासन की बागडोर संभालते ही कहा था कि किसानों की आय को हम 2022 तक दोगुना करेंगे, वो भी हम पूरा करेंगे।
-1 लाख रुपए तक, जो क्रेडिट कार्ड पर ब्याज मिलता है, वह 5 सालों तक उस पर ब्याज 0% होगा।

-25 लाख करोड़ रुपए ग्रामीण क्षेत्रों के विकास में खर्च करेंगे।
-प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत 2 हेक्टेयर से कम जमीन वालों को 6 हजार रुपए सालाना शुरू हो गया है, यह आगे भी दिया जाएगा।
-पहली किस्त मार्च में जा चुकी है। अब 2 हेक्टेयर को ही नहीं, सभी किसानों को यह सम्मान निधि का लाभ मिलेगा।

-सभी किसान को 60 साल की उम्र के बाद पेंशन की सुविधा देंगे।
-राष्ट्रीय व्यापार आयोग बनाएंगे, जो व्यापारियों की चिंता करेगा। यह वेरी एफेक्टिव आयोग होगा।
-मतलब, लघु और सीमांत किसानों के साथ लघु व्यापारियों को नहीं छोड़ सकते। इसलिए दुकानदारों को भी 60 साल की उम्र के बाद पेंशन देंगे।

-जम्मू—कश्मीर से धारा 370 हटाएंगे।
-छोटे किसानों को पेंशन के दायरे में लाएंगे।
-75 मेडिकल कॉलेज—विवि बनाएंगे।
-खर्च बचाने के लिए एक देश, एक चुनाव अपनाएंगे।
-1400 मरीजों पर एक डॉक्टर का अनुपात लागू करेंगे।
-मैनेजमेंट—इंजिनियरिंग कॉलेजों में सीटें बढ़ाएंगे।

सभी गरीबों को गैस कनेक्शन देंगे।
-राम मंदिर का निर्माण संविधान के दायरे में करेंगे।
-लघु एवं सीमांत किसानों को पेंशन देंगे।
-धारा 370 और धारा 35ए को हटाएंगे।

अधिक खबरों के लिए हमारी वेबसाइट www.nationaldunia.com पर विजिट करें। Facebook,Twitter पे फॉलो करें।