35 C
Jaipur
शनिवार, जुलाई 4, 2020

झारखंड में कोरोना के खिलाफ जंग के लिए महिलाओं को तैयार कर रही दीदियां

- Advertisement -
- Advertisement -

रांची, 20 जून (आईएएनएस)। कोरोना संक्रमण के इस दौर में प्रवासियों के लौटने के बाद झारखंड में कोरोना संक्रमितों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। प्रवासियों की वापसी के बाद ग्रामीण इलाकों में संक्रमण के फैलने का खतरा भी बढ़ा है। ऐसे में ग्रामीणों को संक्रमण से बचाव एवं सुरक्षित करने के लिए झारखंड में सखी मंडल के जरिए एक अभिनव प्रयास किया जा रहा है।

कोरोना वारियर्स के रुप में सखी मंडल की बहनों (दीदियों) को कोविड ट्रेनर्स के रुप में प्रशिक्षित किया गया है, जिससे वे ग्रामीणों को कोरोना से बचाव एवं सुरक्षा के लिए जागरुक कर रही हैं।

झारखंड के प्रत्येक प्रखण्ड से सखी मंडल की दो महिलाओं को ब्लॉक रिसोर्स पर्सन के रुप में डिजिटल माध्यम से प्रशिक्षित किया जा चुका है। राज्य में सखी मंडल की कुल 526 प्रखंड स्तरीय रिसोर्स पर्सन प्रशिक्षित है,जो लागातार सखी मंडल की दीदियों को कोविड-19 कम्युनिटी ट्रेनर के रुप में प्रशिक्षित कर रही है। अब तक पूरे झारखंड में करीब 28,666 सखी मंडल की महिलाएं कोविड ट्रेनर के रुप में तैयार हो गई है।

राज्य की ये प्रशिक्षित कम्युनिटी ट्रेनर बहनें सुदूर गांवों में अबतक करीब 12 लाख महिलाओं अथवा परिवारों को कोविड-19 पर जागरुकता एवं बचाव से संबंधीत प्रशिक्षण दे चुकी है। इस अभिनव पहल के जरिए राज्य में करीब 32 लाख ग्रामीण परिवारों को जून माह तक कोविड से बचाव पर जागरुक किया जा सकेगा।

झारखंड में शुरू किए गए इस अनूठे पहल में प्रशिक्षित महिलाएं करीब दो घंटे का प्रशिक्षण सखी मंडल की महिलाओं को उपलब्ध करा रही है। जिस प्रशिक्षण में कोविड-19 के लक्षण से लेकर उसके बचाव के तरीके एवं कैसे अपनी इम्युनिटी को बढ़ाकर कोरोना को मात दी जा सकती है उसकी पूरी चर्चा की जाती है।

सिमडेगा जिले के कोलेबिरा की प्रखण्ड स्तरीय रिसोर्स पर्सन रेशमा खातुन आईएएनएस को बताती हैं कि अब तक करीब 100 परिवारों को वे प्रशिक्षण दे चुकी है और लोग भी कोविड-19 की जानकारी प्राप्त करना चाहती हैं।

रेशमा बताती हैं, प्रवासी मजदूरों के लौटने से ग्रामीणों में डर है और लोग ज्यादा से ज्यादा कोविड से बचाव के तरीके जानना चाहते है। प्रशिक्षण के बाद सखी मंडल की दीदियां लगातार अपने परिवार के लोगों को एवं आस-पड़ोस के लोगों को भी जागरुक कर रही है।

बोकारो के तेनुघाट की सामुदायिक ट्रेनर रंजू देवी बताती हैं, प्रशिक्षण लेने से पहले हमारे यहां भी कोविड के संक्रमित मरीजों को छुआछूत की नजर से देखा जाता था लेकिन अब माहौल बदल रहा है लोग समझ गए है की संक्रमित व्यक्ति भी पूर्ण रुप से ठीक हो जाता है एवं हमें बीमारी से लड़ना है बीमार से नहीं।

गढ़वा के खरौंधी प्रखंड की अनिता देवी जो की एक कम्युनिटी ट्रेनर है, बताती है, कोविड 19 को लेकर लोगो के बीच में काफी भ्रांतियां थीं, जो इस प्रशिक्षण से कम हुई हैं।

झारखंड स्टेट लाईवलीहुड प्रमोशन सोसाईटी के सीईओ और ग्रामीण विकास विभाग के विशेष सचिव राजीव कुमार आईएएनएस को बताते हैं, कोविड-19 के खिलाफ सखी मंडल की दीदियां हर मोर्चे पर अपनी जिम्मेदारी निभा रही है। भूख के खिलाफ लड़ाई में मुख्यमंत्री दीदी किचन का संचालन कर रही है, मिशन सक्षम एप के जरिए करीब सवा तीन लाख प्रवासियों के हुनर की पहचान का आंकड़ा दर्ज किया जा चुका है, वहीं अब अभियान के रुप में सखी मंडल की दीदियां कोविड-19 के खिलाफ जागरुकता कैंपेन का प्रतिनिधित्व कर रही है जो प्रशंसनीय है।

ग्रामीण विकास मंत्रालय की पहल पर झारखंड के ग्रामीण विकास विभाग अंतर्गत झारखंड स्टेट लाईवलीहुड प्रमोशन सोसाईटी के जरिए कोविड-19 के खिलाफ गांव में प्रशिक्षण को बढ़ावा दिया जा रहा है।

बहरहाल, कोविड से बचाव ही एक मात्र उपाय है और अब जब गांव और शहर अनलॉक हो रहे हैं, दीदियों का यह जागरुकता कैंपेन गांव के लोगों में एक नई उम्मीदों का संचार कर रहा है, तभी तो वह नई ऊर्जा एवं पूरी तैयारी के साथ मास्क एवं सोशल डिस्टेंसिंग को हथियार बनाकर काम पर लौट रहे है।

–आईएएनएस

National Dunia से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर लाइक और Twitter, YouTube पर फॉलो करें.

- Advertisement -
झारखंड में कोरोना के खिलाफ  जंग के लिए महिलाओं को तैयार कर रही दीदियां 2
Ram Gopal Jathttps://nationaldunia.com
नेशनल दुनिआ संपादक .

Latest news

पाकिस्तान के विदेश मंत्री कोरोना पॉजिटिव

इस्लामाबाद, 4 जुलाई (आईएएनएस)। पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने पुष्टि की है कि उनका कोरोनावायरस परीक्षण पॉजिटिव आया है लेकिन वे...
- Advertisement -

सेंसेक्स 178 अंक चढ़कर 36021 पर बद हुआ, 10607 पर निफ्टी (लीड-1)

मुंबई, 3 जुलाई (आईएएनएस)। घरेलू शेयर बाजार में शुक्रवार को लगातार तीसरे दिन तेजी के रुझानों के साथ कारोबार हुआ। सेंसेक्स पिछले सत्र से...

आज चुनाव में ट्रम्प की हार तय, अपने प्रतिद्वंद्वी बाइडन के सामने 10% वोटों से पीछे

नई दिल्ली। अमेरिका से आ रही खबरें स्पष्ट रूप से संकेत देती है कि आगामी नवंबर माह में होने...

भारत बौद्ध स्थलों से संपर्क पर ध्यान केंद्रित करना चाहता है: मोदी

नई दिल्ली, 4 जुलाई (आईएएनएस)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का कहना है कि भारत देश अब बौद्ध स्थलों से संपर्क पर अपना ध्यान केंद्रित करना...

Related news

3 माह से वेतन नहीं, सैंकड़ों कर्मचारियों की कोरोनाकाल में भूखे मरने की नौबत आई

-वेतन नहीं मिला तो कर्मचारी पहुंचे न्यायालय की शरणजयपुर। कोरोना संक्रमण काल के दौरान भी काम कर रहे...

2 साल 2 माह के मुख्य सचिव डीबी गुप्ता को राजस्थान सरकार ने आधी रात क्यों हटाया?

जयपुर राजस्थान सरकार ने गुरुवार आधी रात राज्य की ब्यूरोक्रेसी में बड़ा बदलाव करते हुए भारतीय प्रशासनिक सेवा के...

मोदी चीन के फ्रंट पर, इधर डॉ. पूनियां कोरोना वॉरियर के फ्रंट पर पहुंचे

जयपुर ऐसा लग रहा है जैसे 24 में 18 घन्टे काम कर दुनिया को चौंकाने वाले नरेंद्र मोदी की...

वसुंधरा से दूरियां, डॉ. सतीश पूनियां से नजदीकियां, आखिर क्या मंत्र है राठौड़ का?

जयपुर।राजस्थान विधानसभा में उप नेता प्रतिपक्ष और पिछली वसुंधरा राजे सरकार में पंचायती राज मंत्री रहे चूरू के विधायक राजेंद्र सिंह राठौड़...
- Advertisement -