Goa cm manohar parrikar rajyavardhan rathore and national dunia editor Ramgopal jat (in center)
Goa cm manohar parrikar rajyavardhan rathore and national dunia editor Ramgopal jat (in center)

नई दिल्ली।

देश के सबसे इमानदार मुख्यमंत्री का रुतबा हासिल करने वाले गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर का अभी-अभी निधन हो गया। पर्रिकर बीते लंबे समय से कैंसर की बेहद गंभीर स्थिति से गुजर रहे थे।

देश में बीजेपी सरकार बनने के साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विशेष आग्रह पर गोवा छोड़कर सेंटर में रक्षा मंत्री बनाया गया था। पर्रिकर 4 बार मुख्यमंत्री रहे हैं।

नहीं रहे देश के ईमानदार मुख्यमंत्री: मनोहर पर्रिकर का लंबी बीमारी के बाद अभी अभी निधन 1

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मनोहर पर्रिकर को श्रद्धांजलि देते हुए ट्वीट किया है कि आपके द्वारा रक्षा क्षेत्र में किए गए अभिनव कार्य और गोवा को आधुनिक विकसित और सुसज्जित गोवा बनाने के लिए देश हमेशा हमेशा के लिए याद रखेगा।

मनोहर पर्रिकर गोवा में लंबे समय से मुख्यमंत्री थे, उनको देश का सबसे ईमानदार मुख्यमंत्री होने का रुतबा हासिल था। करीब डेढ़ साल पहले जब गोवा में विधानसभा चुनाव हुए और भारतीय जनता पार्टी को पूर्ण बहुमत नहीं मिला, तब कांग्रेस के अलावा अन्य दलों और निर्दलीय विधायकों ने मनोहर पर्रिकर को मुख्यमंत्री बनाए जाने की शर्त पर ही समर्थन देने का को कहा था।

तब उनको रक्षा मंत्रालय से इस्तीफा देकर गोवा के मुख्यमंत्री के रूप में भेजा गया था। Manohar parrikar पिछले 1 साल से कैंसर की घातक बीमारी से जूझ रहे थे। उनके द्वारा कैंसर की बीमारी होने के बावजूद मुख्यमंत्री के तौर पर नियमित कार्य करने की तस्वीरें आती रहती थी।

नहीं रहे देश के ईमानदार मुख्यमंत्री: मनोहर पर्रिकर का लंबी बीमारी के बाद अभी अभी निधन 2

अब से कुछ ही देर पहले गोवा के पणजी में उन्होंने अंतिम सांस ली है। 63 वर्षीय मनोहर पर्रिकर एडवांस पैंक्रिएटिक कैंसर से पीड़ित थे। उन्होंने आज गोवा की राजधानी पणजी के पास ही अपने निजी आवास पर अंतिम सांस ली।

मुख्यमंत्री पर्रिकर के निधन पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने श्रद्धांजलि देते हुए लिखा है कि देश के सबसे इमानदार लोगों में से एक पर्रिकर को देश कभी नहीं भुला पाएगा। कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी परिवार को गोवा का सबसे चहेता बेटा बताते हुए पार्टी लाइन से ऊपर उठकर उनको विनम्र श्रद्धांजलि दी है।

केंद्र की कैबिनेट कल सुबह 11:00 बजे श्रद्धांजलि देने के लिए विशेष बैठक आयोजित करेगी। इससे पहले आज सुबह ही मुख्यमंत्री कार्यालय ने ट्वीट करके बताया था कि पर्रिकर की हालत बेहद नाजुक है।

मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर का उपचार गोवा, दिल्ली, मुंबई और न्यूयॉर्क के अस्पतालों में उपचार करवाया गया था, लेकिन वह नहीं बच पाए।

अधिक खबरों के लिए हमारी वेबसाइट www.nationaldunia.com पर विजिट करें। Facebook,Twitter पे फॉलो करें।