नेपाल की ओली सरकार ने सबसे बडे हाईड्रो प्राजेक्ट दिया चीन को, भारत को फिर से धोखा

23
- नेशनल दुनिया पर विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें 9828999333-
dr. rajvendra chaudhary jaipur-hospital

काठमांडू/ राजू लामा।

भारत से सुधरते रिस्ते को नेपाल के प्रधानमंत्री ने फिर से ब्रेक लगा दिया है। यह वही प्रधानमंत्री हैं, जिनके पहले कार्यकाल में नेपाल को भारत ने अघोषित नाकाबन्दी लगाया था, मगर कुछ वक्त गुजरने कें बाद वर्तमान प्रधानमंत्री केपी ओली ने भारत के साथ रिश्ते को नया आयाम दिया था।

नेपाल में ओली के ही नेतृत्व में बिम्सटेक राष्ट्रों के सम्मेलन भी नेपाल ने काठमांडू में आयोजित किया था, मगर बिम्सटेक सम्मेलन के कुछ ही दिनों बाद भारतीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आह्वान में बिम्सटेक राष्ट्रों की संयुक्त सैन्य अभ्यास में नेपाल की ओर से सहभागिता नहीं जताई, बल्कि बदले में चीन के साथ उसने संयुक्त सैन्य अभ्यास करने को मंजूरी दे दी गई।

ये नेपाल के वर्तमान प्रधानमंत्री केपी ओली के ही निर्देशन में हुआ है। बिम्सटेक राष्ट्राें की सहभागिता में भारत कें पुणे में हुई सैन्य संयुक्त अभ्यास को ना मंजूरी देने में ओली के ही हाथ रहा था।

भारत सरकार और भारतीय सेना ने इस निर्णय को बडी शब्दों में नेपाल सरकार की कड़े शब्दों में आलोचना की थी।

भारत के इसी कदम से कुछ समय से नेपाल और भारत के बीच में सुधरते सम्बंधों में नेपाल के ही प्रधानमंत्री केपी ओली ने दरार को और चौड़ी कर दिया है।

अब नेपाल इसमें ही नहीं रुका। नेपाल के उर्जा मंत्रालय ने नेपाल के सबसे बडे हाईड्रो प्रोजेक्ट “बुढी गण्डकी हाईड्रो प्रजेक्ट” की चाबी चीन को दे दिया है।

ओली के सीधे में चीनी कम्पनी गेजुवा को ये प्रोजेक्ट देने के बाद नेपाल और भारत के बीच में रिश्ते में फिर दरार खडी होने की संभावना बढ गई है।

भारत ने भी इस प्रोजेक्ट को अपनी और से बनाने का प्रस्ताव नेपाल को किया था, मगर नेपाल के प्रधानमंत्री केपी ओली ने भारत को इस प्रोजेक्ट न देते हुए चीन को दे दिया है।

इससे नेपाल और भारत के बीच मे फिर से संबंधों में समस्या आने की संभावना दिखाई दिया है। नेपाल के प्रधानमंत्री जितने भी भारत से संबंध सुधारने की बात करते हैं, वो भारत के खिलाफ में काम करते आये हैं। इससे ये साबित होता है की केपी ओली भारत को चॉकलेट दिखा कर चक्मा देने मे माहिर नजर आ रही हैं।

इससे नेपाल और भारत के बीच में चल रही सदियों पुरानी दोस्ती को धत्ता बताकर भविष्य में बडी दरार पैदा होती नजर आ रही है।

देश की राजनीतिक खबरें NATIONALDUNIA पर पढ़ें। देश भर की अन्य खबरों के ल‍िए बने रह‍िए WWW.NATIONALDUNIA.COM के साथ। देश और दुन‍िया की सभी खबरों की ताजा अपडेट के ल‍िए जुड़िए हमारे FACEBOOK पेज से। हमें आर्थिक मदद पेटीएम नंबर 9828999333 पर करें।