चिकित्सा विभाग के लिए रहस्य बनी बीमारी, जयपुर-कोटा कॉलेज भेजे हैं सैम्पल

9
nationaldunia
- Advertisement - dr. rajvendra chaudhary

-अब तक 5 बच्चों की मौत, 6 बच्चों की बीमारी जांचने के लिए प्रयास कर रहा है विभाग

जयपुर। सवाई माधोपुर जिले के खंडार में बच्चों की मौत और उनकी बीमारी चिकित्सा विभाग के लिए रहस्य बनी हुई है। विभाग ने अपने सभी अफसर वहां तैनात कर दिए हैं, लेकिन नए बीमार बच्चों के सामने आने का सिलसिला थम नहीं रहा है। विभाग के डॉक्टर इस बीमारी को लेकर कुछ भी बोलने से कतरा रहे हैं। ऐसे में ग्रामीणों में दहशत और गुस्सा दोनों है।

आपको बता दें कि जिल मुख्यालय से करीब 40 किलोमीटर दूर स्थित खंडार की ग्राम पंचायत गंडावर व बोहाना में एक अज्ञात जानलेवा बीमारी फैल रही है। इसके कारण अब तक 5 बच्चों की मौत हो चुकी है। गंडावर के 3 और बोहाना के 2 बच्चों की मौत के बाद जागा चिकित्सा महकमा यह जांचने में ही लगा हुआ है कि बीमारी आखिर है क्या? हालांकि, विभाग ने सीएमएचओ, बीसीएमएचओ सहित मेडिकल अधिकारियों को यहां पर तैनात कर दिया है।

6 सैम्पल जयपुर व कोटा भेजे हैं

जिला चिकित्सा अधिकारी एवं अधिकारी डॉ. डीके यादव का कहना है कि अब तक 1 बच्चों की मौत हुई है। इसके अलावा 6 बच्चों को पॉजिटिव पाए जाने के लक्षण मिलने के बाद उनके ब्लड सैम्पल जयपुर एसएमएस मेडिकल कॉलेज और कोटा के सरकारी कॉलेज में भेजा गया है। इनकी रिपोर्ट आज शाम तक आने की उम्मीद जताई जा रही है। बच्चों में बुखार के अलावा कमजोरी और खांसी के साथ ही दूसरे कई तरह के लक्षण दिखाई दे रहे हैं। हालांकि, विभाग के एक भी अधिकारी ने यह नहीं माना है कि पांच बच्चों की मौत हो चुकी है, लेकिन स्थानीय लोगों के अनुसार अब तक 5 बच्चों की जान जा चुकी है। बीमारी को स्वाइन फ्लू के साथ भी जोड़कर देखा जा रहा है।