एलआईसी अपनी संपत्तियां बेचकर 600 अरब जुटाएगी

12
nationaldunia
- Advertisement - dr. rajvendra chaudhary

नई दिल्ली।

एलआईसी के अध्यक्ष वीके शर्मा ने कहा है कि संकट में फंसी बुनियादी ढांचा क्षेत्र की कंपनी आईएलऐंडएफएस की संपत्तियां बेचकर 600 अरब रुपये जुटा सकती है। एलआईसी कंपनी के राइट्स इश्यू में भागीदारी के जरिये अपनी हिस्सेदारी को बढ़ाने के लिए तैयार है। भारतीय रिजर्व बैंक के अधिकारियों ने मुंबई में आईएलऐंडएफएस के शेयरधारकों से मुलाकात की।

इस बैठक में आईएलऐंडएफएस के अध्यक्ष हेमंत भार्गव और जापान की ओरिक्स कॉर्प के आला अधिकारियों ने हिस्सा लिया। आईएलऐंडएफएस को इस संकट से उबारने के उपायों पर चर्चा के लिए आरबीआई ने यह बैठक बुलाई थी।

कंपनी के शेयरधारकों की कल मुंबई में बैठक होगी। नकदी संकट से उबरने के लिए आईएलऐंडएफएस ने शेयरधारकों से 4,500 करोड़ रुपये की देने की भी मांग की है। कंपनी में लाइफ इंश्योरेंश की 25.34 फीसदी हिस्सेदारी है। जबकि एचडीएफसी की 9.02 प्रतिशत हिस्सेदारी है।

इसी तरह से सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया की 7.67 फीसदी, भारतीय स्टेट बैंक की 6.42 प्रतिशत हिस्सेदारी के साथ कंपनी में मामूली हिस्सेदार हैं। कंपनी ने सितंबर में कर्ज की अदायगी नहीं की है।

कंपनी में भारतीय संस्थाओं की ज्वाइंट में लगभग 49 प्रतिशत हिस्सेदारी है। कंपनी में जापानी ओरिक्स कॉरपोरेशन की भी 23.54 प्रतिशत हिस्सेदारी है। इसी तरह से अबु धाबी इनवेस्टमेंट अथॉरिटी का 12.56 प्रतिशत हिस्सा है।