राजस्थान में कांग्रेस इनका टिकट काटकर युवाओं और महिलाओं पर खेलेगी दांव-

53
nationaldunia
- नेशनल दुनिया पर विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें 9828999333-
dr. rajvendra chaudhary jaipur-hospital

जयपुर।
राजस्थान में इस साल के अंत तक होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर भारतीय जनता पार्टी जा फुल फॉर्म में चल रही है, वहीं कांग्रेस ने राजस्थान में युवा महिला प्रत्याशियों पर दांव खेलने का मन बना लिया है।
पिछले दिनों सागवाड़ा में हुई राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी की रैली में महिलाओं की भागीदारी बढ़ाने के साथ ही इस बात के भी संकेत दे दिए गए थे, कि प्रदेश की 50 से 60 सीटों पर युवा महिला नेत्री ओं को मौका दिया जाएगा।
कांग्रेस सूत्रों की माने तो प्रदेश में युवा और महिलाओं को मिलाकर 50 से 7 सीट पर टिकट दिया जाएगा। प्रदेश महिला कांग्रेस ने मुख्यमंत्री के निर्वाचन क्षेत्र झालावाड़ से महिला अधिकार यात्रा की शुरुआत करके इस बात के संकेत को पुख्ता कर दिया है।
कोटा संभाग की यात्रा के दौरान महिला कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सुष्मिता देव ने महिला चौपाल और शाम को महिला जुलूस निकालकर प्रदेश में 3 से 7 बार 3 सीटों पर सेवादल के माध्यम से पार्टी को मजबूत करने के लिए कमान सौंपी जाएगी।
प्रदेश की करीब 25 सीटों पर सेवा दल के कार्यकर्ताओं को नियुक्त किया जाएगा यह कार्यकर्ता प्रदेश के अलावा राजस्थान के अन्य दूसरे पड़ोसी राज्यों और पश्चिम बंगाल तक के सेवादल पदाधिकारियों को बुलाया जाएगा।
राहुल गांधी के निर्देश के बाद राजस्थान में टिकट के नए मापदंडों ने कांग्रेस नेताओं की नींद उड़ा दी है। इस नए नियम के बाद करीब 35 नेता टिकट की दौड़ से बाहर होंगे।बीते दो चुनाव में 2 बार हारे हुए 20 से ज्यादा नेताओं की दावेदारी पर खतरा मंडराने लगा है। कांग्रेस के सूत्र बताते हैं कि दर्जनभर पूर्व सासंद भी विधानसभा टिकट की दौड़ से बाहर हो सकते हैं।
इस सूची में दो बार हारे हुए डॉ. चंद्रभान, बीडी कल्ला, रिछपाल मिर्धा, डॉ. सीएस बैद, रामचंद्र सराधना, आलोक बेनीवाल, जुबेर खान, संयम लोढा, ममता शर्मा, नरेन्द्र शर्मा, रमेश खिंची, दीपचंद खेड़िया, बनवारीलाल शर्मा, विक्रम सिंह शेखावत, लक्ष्मण मीणा, गिरीश चौधरी, गोपाल बाहेती, खुशवीर सिंह जोजावर, नईमुद्दीन गुड्डु टिकट की दौड़ से बाहर हो सकते हैं।
मापदंडों से कई पूर्व सासंद भी विधानसभा चुनाव में टिकट की दौड़ से बाहर हो जाएंगे। जिनमें
डॉ.सीपी जोशी, महेश जोशी, गोपाल सिंह ईडवा, लालचंद कटारिया, महादेव सिंह खंडेला, नमोनारायण मीणा, रघुवीर मीणा, हरीश चौधरी, इज्यराज सिंह, शंकर पन्नू, भरत मेघवाल टिकट की दौड़ से बाहर हो जाएंगे।