सीबीआई ने कहा: माल्या आए तो चुपचाप बता देना

10
nationaldunia
- Advertisement - dr. rajvendra chaudhary

नई दिल्ली।

भारत से भगोड़े कारोबारी विजय माल्या पर एक बड़ा खुलासा हुआ है। एक अंग्रेजी अखबार के मुताबिक खुफिया डॉक्यूमेंट्स में यह जानकारी मिली है कि मुंबई पुलिस से सीबीआई ने लिखित रूप से कहा था कि विजय माल्या के बारे में हमें चुपचाप बता देना, उसे हिरासत में लेने की जरूरत नहीं है।

आपको बता दें कि 16 अक्टूबर, 2015 को जब पहला लुकआउट नोटिस जारी किया गया था, तब सीबीआई ने फॉर्म में भारत छोड़ने से रोकने संबिधित विषय को भर दिया था। दूसरा लुकआउट नोटिस 24 नवंबर 2015 को जारी किया गया।

इस दिन देर रात माल्या दिल्ली पहुंचा था। दूसरे लुकआउट नोटिस में माल्या के आने-जाने के बारे में सूचित करें वाले बॉक्स को चुना गया था।

इससे साफ होता है कि यह कहा गया कि माल्या को गिरफ्तार करने की जरूरत नहीं है केवल इस बारे में जानकारी दे दें। वहीं अगर माल्या की बात करें तो 2 मार्च 2016 को उन्होंने देश छोड़ दिया था।

सीबीआई को 23 नवंबर 2015 को यह सूचना दी गई थी कि माल्या 24 नवंबर को दिल्ली आ रहा है। इसी दिन सीबीआई ने मुंबई पुलिस को पत्र लिखा था, जिसमें कहा गया था कि माल्या को हिरासत में न लें।

अगर गिरफ्तारी की जरूरत पड़ी तो यह बाद में कर लिया जाएगा। इस मामले में अलर्ट के बावजूद एजेंसी अनजान व्यवहार करती रही।मुंबई सीबीआई के एसपी हर्षिता अटलुरी ने इस पत्र पर हस्ताक्षर किए थे।

इस पत्र में कहा गया कि लुकआउट नोटिस को जारी करते समय माल्या के देश में आने-जाने को लेकर जो भी जानकारी हो, उसे साझा किया जाए। हालांकि अभी तक इस मामले में सीबीआई अधिकारी और संयुक्त निदेशक की ओर से कोई बयान नहीं आया है।