4 साल की उम्र में मां खो चुके 18 साल के पृथ्वी शॉ ने डैब्यू में की शतकों की हैट्रिक

8
- Advertisement - dr. rajvendra chaudhary

नई दिल्ली।

भारत की तरफ से टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण कि वक्त शतक मारने वाले पृथ्वी शॉ पहले क्रिकेटर हो गए हैं। महज 18 साल और कुछ ही महीने में पृथ्वी ने भारत की तरफ से टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण करते हुए सैकड़ा ठोक डाला।

केवल 4 साल की उम्र में अपनी मां को चुके पृथ्वी आज वेस्टइंडीज के खिलाफ खेलते हुए पहले टेस्ट में अपना शतक पूरा किया। पृथ्वी भारत की तरफ से टेस्ट कैप पहनने वाले 393 नंबर के खिलाड़ी हैं।

पृथ्वी बताते हैं कि 4 साल में उनकी मां का देहांत होने के बाद पिता पंकज ने उनके मां और बाप दोनों का दायित्व भली-भांति वहन किया। यहां तक कि उनके कपड़े पहनने कपड़ों का सलीका और प्रैक्टिस के लिए मैदान तक ले जाने और लाने में भी सारा काम उनके पिता पंकज नहीं किया।

इसे पहले पृथ्वी ने अपनी रणजी मैचों में पदार्पण करते हुए भी सैकड़ा लगाया था। साथ ही दिलीप ट्रॉफी में खेलते हुए भी उन्होंने पहले ही मैच में शतक मारा था। इस तरह से देखा जाए तो उन्होंने क्रिकेट के तीन फॉर्मेट में पदार्पण करते वक्त सैकड़ों की हैट्रिक पूरी कर ली है।

गौरतलब है कि भारत आज से वेस्टइंडीज के खिलाफ स्वदेश में दो टेस्ट मैचों की सीरीज खेल रहा है। उल्लेखनीय है कि हाल ही में इंग्लैंड के खिलाफ पांच टेस्ट मैचों की सीरीज में भारत 1-4 से हार गया था।